Thursday, June 1, 2023
Homeबिहारमोतिहारी में 8 लोगों की संदिग्ध मौत, 7 गंभीर:गांव वाले बोले-शराब पी...

मोतिहारी में 8 लोगों की संदिग्ध मौत, 7 गंभीर:गांव वाले बोले-शराब पी थी; डॉक्टर ने बताया डायरिया, 7 शव बगैर पोस्टमॉर्टम के जलाए गए

DESK: मोतिहारी में 24 घंटे में 8 लोगों की मौत हो चुकी है। 7 की हालत गंभीर बनी हुई है। सभी का शहर के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। गांव वालों का कहना है कि सभी ने जहरीली शराब पी थी। गुरुवार रात से सभी की तबीयत बिगड़ने लगी। शुक्रवार शाम तक 8 लोगों की जान चली गई। डॉक्टर्स का कहना है कि सभी डायरिया और फूड पॉइजनिंग के शिकार थे। पुलिस और प्रशासन कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। परिवार वालों ने 7 लोगों के शव बिना पोस्टमार्टम के ही जला दिए।

मामला हरसिद्धि थाना क्षेत्र का है। मठ लोहियार में पिता और बेटे की 4 घंटे के अंदर मौत हो गई। पहले नवल दास की हुई, फिर उसके बेटे परमेंद्र दास की। दोनों के शव को परिजनों ने जला दिया। नवल की बहू की स्थिति नाजुक है। जिसका इलाज चल रहा। इलाज करने वाले डॉक्टर ने बताया कि उसे डायरिया की समस्या है।

फिर पता चला कि उसी गांव के हरिलाल सिंह की स्थिति नाजुक है, जिसे शहर के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। उसके बाद तुरकौलिया थाना क्षेत्र के बैरिया बाजार पर एक निजी क्लीनिक में इलाज के दौरान 35 वर्षीय रामेश्वर राम की मौत हो गई। परिजन ने बताया कि सुबह से अचानक सिर में दर्द हुआ, इलाज के लिए भर्ती कराए, शाम में मौत हो गई।

वहीं सदर अस्पताल में तुरकौलिया थाना क्षेत्र के विनोद पासवान और अशोक पासवान को भर्ती कराया गया, जहां गंभीर स्थिति को देखते हुए मुजफ्फरपुर रेफर किया गया। जहां अशोक पासवान की मौत हो गई, लेकिन इसके मौत की आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है।

वहीं, ध्रुप पासवान की शहर के निजी नर्सिंग होम में इलाज के दौरान मौत हो गई है। परिजनों ने शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर दिया। जानकारी के अनुसार पहाड़पुर थाना क्षेत्र के बुटुन मांझी और टुनटुन सिंह की स्थानीय डॉक्टर के पास इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि बीमार थे, इस वजह से मौत हुई ना की जहरीली शराब पीने से।

मृतक रामेश्वर के भाई ने बताया कि शुक्रवार सुबह अचानक उसके सिर में दर्द हुआ। हमने उसे डॉ. बिनोद प्रसाद के निजी क्लिनिक में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं बाद में पता चला कि गांव के तीन अन्य लोगों के भी सिर में तेज दर्द हुआ था। सभी गेहूं की कटनी कर के घर पर आए थे। गेहूं काटने के दौरान कुछ हुआ था, इसी वजह से सभी की मौत हो रही।

हरसिद्धि के मठ लोहियार गांव के दिलीप ने बताया कि नवल दास शराब तस्कर था। वह 15 दिन पहले जेल से आया था, उसके बाद से वह शराब तस्करी का काम करता था। इसलिए सभी को शक है कि सभी ने शराब पी होगी। शराब से ही सभी की मौत हुई होगी।

DM-SP बोले जांच हो रही है

जिले में लगातार हो रहे मौत मामले में कोई भी अधिकारी खुल कर बोलने से परहेज कर रहे हैं। हालांकि डीएम और एसपी ने बताया कि जांच में जो सामने आया है, डायरिया और फूड पॉइजनिंग सामने आया है। वहां मेडिकल टीम कैंप कर रही है।

कई लोगों की स्थिति नाजुक

शहर के अलग-अलग नर्सिंग होम में बीमार लोगों का इलाज चल रहा है। जिसमें पहाड़पुर के भोला प्रसाद, हरसिद्धि के हरिलाल सिंह और सुगौली के गोविजनद्र ठाकुर की स्थिति नाजुक बनी है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News