Tuesday, July 23, 2024
Homeबिहारगजब! शराब के नशे में दुल्हा भूल गया शादी की तारीख, सजधज...

गजब! शराब के नशे में दुल्हा भूल गया शादी की तारीख, सजधज कर इंतजार करती रही दुल्हन, फिर…

Bhagalpur: बिहार में इन दिनों शादी विवाह के अजीबो गरीब मामले सामने आ रहे है. खगड़िया में चार बच्चों की मां प्रेमी के साथ भाग गई. इसके बाद महिला के पति ने प्रेमी की पत्नी से शादी कर ली. तो वहीं बांका में एक महिला अपने चार बच्चों को छोड़कर प्रेमी के साथ फरार हो गई. महिला का सबसे छोटा बच्चा महज 22 महीने का है. लेकिन अभी जो मामला सामने आया है वह इन सब से अलग है, जुदा है. यहां एक लड़का शराब के नशे में इस कदर डूब गया कि वह अपनी शादी की तारीख ही भूल गया. वह शादी के दिन जब शराब पीने बैठा तो इस कदर नशे में चूर हो गया कि उसे यह भी ख्याल नहीं रहा कि आज उसकी शादी है. कहीं दूर किसी गांव में शादी के जोड़े में सजधज कर शादी के सात बंधन में बंधने के लिए कोई उसका इतंजार कर रही है. गौर करने वाली बात यह भी है कि बिहार में शराबबंदी है.

मामला भागलपुर जिले के कहलगांव प्रखंड के अंतीचक गांव का है. यहां से बारात भागलपुर के ही सुल्तानगंज के एक गांव में जानी थी. सुल्तानगंज में शादी के लिए लड़की वालों ने पूरी तैयारी कर ली थी. लड़की पक्ष वालों ने बारातियों के स्वागत की लिए सारा इंतजाम किया था. खाना पीना सब तैयार था. लड़की भी सजधज कर तैयार थी. बस इंतजार बारात और दुल्हे का था.

शराब के नशे में भूला शादी की तारीख

लेकिन देर रात तक बारात नहीं पहुंची. लड़की वालों ने किसी अनहोनी के डर से लड़के वालों को फोन लगाना शुरू कर दिया. बार-बार फोन करने के बाद भी लड़के वालों ने फोन नहीं उठाया. दरअसल शादी के दिन लड़के ने छककर शराब पी. होने वाले दुल्हे ने इतनी शराब पी कि वह अपने पैरों पर खड़ा नहीं हो पा रहा था. वह नशे में अपनी शादी की तारीख भी भूल गया था. इस दौरान लड़के के घरवालों ने उसका नशा उतारने का पूरा प्रयास किया. किसी तरह उसे ले जाने की कोशिश की लेकिन लड़का शराब के नशे में टुल था. जिसके बाद सोमवार को बारात नहीं जा सकी.

ये भी पढ़ें: BIHAR: गर्लफ्रेंड संग कमरे में इश्क फरमा रहा था लड़का, गांव वालों ने पकड़कर भरवा दी मांग

मंगलवार को लड़के को किसी तरह से समझा बुझाकर शादी के लिए कुछ लोगों के साथ भेजा गया. इधर लड़की को जब सारे मामले की जानकारी हुई को उसने नशेड़ी युवक से शादी करने से साफ इंकार कर दिया. इसके बाद लड़की के परिजनों ने लड़का और उसके साथ आए लोगों को बंधक बना लिया और शादी में हुए खर्च की मांग कर दी. इसके बाद गांव स्तर पर पंचायत बैठी. पंचायत में तय हुआ कि सारी गलती लड़के वालों की है. इसलिए वह लड़की पक्ष वाले को खर्च हुए रुपए दें. तब लड़के पक्ष के लोग वापस गांव गए और वहां से पैसे लाकर लड़की वालों को दिया. इसके बाद नशेड़ी लड़के को लड़की वालों ने छोड़ा.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest News