Saturday, June 15, 2024
HomeबिहारपटनाHanuman Janmotsav : बिहार में हिंसा के बाद अलर्ट मोड पर सरकार,...

Hanuman Janmotsav : बिहार में हिंसा के बाद अलर्ट मोड पर सरकार, पटना हनुमान मंदिर में सुरक्षा के पुख्ता इंतेजाम

Hanuman Janmotsav : गुरुवार को पूरे देश में हनुमान जयंती पूरे धूमधाम से मनाई जाएगी. हनुमान जयंती को लेकर तैयारियां पूरी हैं, लेकिन सासाराम और बिहारशरीफ की घटनाओं को लेकर सरकार अलर्ट पर भी है. बिहार सरकार के मंत्री सुरक्षा का भरोसा दे रहे हैं और दावा कर रहे हैं कि हनुमान जयंती पर रामनवमी जैसी घटना की पुनरावृत्ति नहीं होगी. पटना के प्रसिद्ध हनुमान मंदिर में हनुमान जयंती की विशेष तैयारी की जा रही है. हनुमान जयंती पर पटना के महावीर मंदिर में लाखों भक्तों की भीड़ जुटती है. लिहाजा महावीर मंदिर में विशेष तैयारी की जा रही है.

नैवेद्यम लड्डू का भी इंतेजाम

दूरदराज के इलाकों से महावीर मंदिर पहुंचने वाले श्रद्धालु किसी तरह की परेशानी ना हो इसके लिए विशेष ध्यान रखा गया है और शेड्स का निर्माण कराया गया है. पुरुष और महिला भक्तों के लिए अलग-अलग कतार बनाए गए हैं. वहीं, बजरंगबली को लगाए जाने वाले प्रसिद्ध नैवेद्यम लड्डू कुछ ज्यादा से ज्यादा संख्या में तैयार किया जा रहा है ताकि किसी तरह की परेशानी ना हो. वहीं, सीसीटीवी कैमरे और ड्रोन के जरिए मॉनिटरिंग की जा रही है. सुरक्षा का भी पुख्ता इंतजाम किया गया है. मंदिर परिसर के अंदर और बाहर पुलिसकर्मियों की तैनाती भी कर दी गई है.

भारी तादाद में भक्तों की भीड़

हनुमान जयंती पर बजरंगबली के मंदिरों में भारी तादाद में भक्तों की भीड़ उमड़ती है. खासतौर पर राजधानी पटना के महावीर मंदिर में लाखों की तादाद में श्रद्धालु देते हैं. मंदिर में आने वाले भक्तों अभी कहीं हनुमान जयंती को लेकर काफी उत्साहित हैं. भले ही राज्य सरकार के मंत्री सुरक्षा का भरोसा दिलाया है और यह गारंटी ले रहे हैं कि रामनवमी पर जो घटना हुई वह हनुमान जयंती पर नहीं होगी, लेकिन विपक्षी बीजेपी को सरकार के मंत्रियों की यह दावे खोखले ही नजर आते हैं.

आरजेडी का बयान

बीजेपी विधायकों की आशंका पर आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता भाई बिरेंद्र ने आश्वस्त किया है कि जो भी इस बार गड़बड़ी करेगा बिहार सरकार से छोड़ेगी नहीं. बिहार सरकार के कृषि मंत्री कुमार सर्वजीत भी सुरक्षा और कानून व्यवस्था का हवाला दे रहे हैं, लेकिन लगे हाथे दोनों नेता बीजेपी पर निशाना साधने से पीछे नहीं हट रहे.

38 जिले हाई अलर्ट पर 

बिहार शरीफ और सासाराम की घटनाओं ने बिहार के लॉ एंड ऑर्डर पर एक बड़ा सवालिया निशान खड़ा कर दिया है. लिहाजा सरकार पूरी तरीके से चौकस और मुस्तैद हैं और यही कारण है कि सूबे के 38 जिलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है और पुलिस एक-एक गतिविधि पर नजर बनाए हुए हैं ताकि हनुमान जयंती पर उन बातों की पुनरावृत्ति ना हो जो रामनवमी के दौरान घटित हुई है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest News