भाभी के प्यार में देवर बना कातिल! मधुबनी में युवक ने अपने सगे भाई की सुपारी देकर करा दी हत्या, खुलासा

By Top Bihar

Published on:

Follow Us
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

मधुबनी: पुलिस ने विनोद यादव हत्याकांड का खुलासा किया है. पुलिस के अनुसार भाभी के प्यार में सगे भाई ने भाई की सुपारी देकर हत्या (Madhubani News) करा दी. अनुसंधान के बाद पुलिस ने मृतक के भाई को हत्या का आरोपी बनाया है. झंझारपुर के डीएसपी अशोक कुमार ने शनिवार को प्रेसवार्ता कर मामले का खुलासा किया. मधेपुर थाना क्षेत्र के बाथ सिकरिया मधेपुर के बीच में एक महीना पूर्व अक्टूबर में अज्ञात अपराधियों ने विनोद कुमार यादव को गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया था. इसके बाद घायल विनोद कुमार यादव को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां तीन दिनों तक चले इलाज के बाद उसकी मौत हो गई.

पुलिस ने टीम गठन कर जांच शुरू की

विनोद की मौत के बाद उसके भाई सरोज कुमार यादव ने मधेपुर थाना में भाई को अज्ञात अपराधियों के द्वारा गोली मारकर हत्या करने के संबंध में लिखित आवेदन दिया था. इसके बाद पुलिस ने वरीय अधिकारी के निर्देश पर अनुसंधान के लिए एक टीम गठित किया. इस मामले को लेकर पुलिस टीम के द्वारा अनुसंधान और तथ्यों के आधार पर मृतक के भाई सरोज कुमार यादव से पूछताछ की गई तो विनोद कुमार यादव की हत्या के पीछे की वजह का खुलासा हुआ.

आरोपी सरोज यादव ने बताया पूरा मामला

सरोज कुमार यादव ने कहा कि विनोद कुमार यादव की पत्नी के साथ उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था. इसकी जानकारी उसके भाई विनोद कुमार चल गया, जिसके बाद दोनों के बीच बराबर विवाद होने लगा. वहीं, एक बार विनोद ने धमकी भी दी. इसके बाद विनोद की हत्या को लेकर साजिश बनाने लगा. उसी दौरान अजय ठाकुर से हुई और विनोद की हत्या करने को लेकर उसे 1 लाख 50 हजार रुपये की सुपारी दी. इसके बाद हत्या करने का डील फाइनल होने पर 30 हजार रुपये ऑनलाइन एडवांस के तौर पर भेज दिया. शूटर अजय कुमार ठाकुर ने 17 अक्टूबर की रात्रि को विनोद कुमार यादव को जान से मारने के लिए उसके ऊपर गोली चलाई. इसके बाद हत्या के लिए तय की गई राशि 40 हजार रुपये भुगतान की.

श्रद्धा हत्याकांड जैसी घटना, शादीशुदा शख्स ने की गर्लफ्रैंड की हत्या, शव के किए 31 टुकड़े

पुलिस ने अन्य आरोपियों को किया गिरफ्तार

वहीं, पुलिस के गिरफ्त में सरोज कुमार यादव के मोबाइल से बाकी की राशि देने के लिए शूटर अजय ठाकुर को जोरमा बांध पर बुलाया गया. पुलिस पहले से जोरमा बांध के पास वाहन चेकिंग करने लगी. इस दौरान पुलिस को देख एक बाइक पर सवार तीन लोग भागने लगे. पुलिस ने बाइक से भाग रहे दो को धर दबोचा और एक अपराधी मौके से फरार हो गया. गिरफ्तार अपराधी की पहचान मुजियासी थाना घोघरडीहा निवासी 22 वर्षीय अजय कुमार ठाकुर के रूप में हुई है. वहीं, दूसरे अपराधी की पहचान बलुआ गांव निवासी 19 वर्षीय सचिन कुमार के रूप में हुई है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now