Friday, July 19, 2024
Homeक्राइमभागलपुर में देवर-भाभी की संदेहास्पद मौत: खिड़की के ग्रिल से लटकता मिला...

भागलपुर में देवर-भाभी की संदेहास्पद मौत: खिड़की के ग्रिल से लटकता मिला शव; चैटिंग से खुला प्रेम-प्रसंग का राज

भागलपुर। भागलपुर के मोजाहिदपुर इलाके में रविवार को किराए के एक कमरे में देवर-भाभी की संदेहास्पद स्थिति में शव मिलने से सनसनी फैल गई। दोनों का शव कमरे की खिड़की के ग्रिल से फंदे के सहारे लटका हुआ था। हालांकि, शरीर का नीचला हिस्सा जमीन से सटा पाया गया। मामला प्रेम-प्रसंग का बताया जा रहा है।

मृतक मुकेश कुमार एकचारी निवासी अमरीश साह के पुत्र हैं। वहीं, राधा देवी उनके बड़े बेटे अरुण साह की पत्नी है। राधा देवी अपने दो बच्चे और देवर के साथ मोजाहिदपुर थाना क्षेत्र के मिरजानहाट दुर्गा मंदिर के पीछे मदनुचक मोहल्ला स्थित मनोज साह के मकान में किराए पर रहते थे।

जिस कमरे में घटना हुई है, वह भीतर से बंद था। सूचना पर रविवार सुबह साढ़े नौ बजे पहुंची पुलिस अधिकारियों और एफएसएल की टीम दरवाजा तोड़कर कमरे के अंदर गई। देवर-भाभी के बीच मोबाइल चैटिंग से दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग की बात कही जा रही है। हालांकि, मृतक के स्वजन इस बारे में अनभिज्ञता जाहिर कर रहे हैं।

बताया जा रहा है कि लुधियाना में राधा की मां रेखा देवी फैक्ट्री में काम करती है। वहीं, अरुण सिलाई मशीन कंपनी में काम करता था। लुधियाना में ही राधा और अरुण के बीच प्यार हो गया। परिवारवालों के विरोध के बाद भी दोनों ने साल 2015 में अंतरजातीय विवाह कर लिया।

श्रीनगर में रहता है महिला का पति

अरुण साह श्रीनगर में ठेला पर फास्टफूड का दुकान चलाते हैं। शनिवार रात 10 बजे से अरुण अपनी पत्नी और भाई को लगातार फोन कर रहा था। हालांकि, कोई जवाब नहीं मिलने उसने अपने साले के साले सुमित कुमार सिन्हा को रात 10:30 बजे फोन कर बताया।

रविवार सुबह आठ बजे रिश्तेदार सुमित राधा के घर पहुंचा। काफी देर तक दरवाजा नहीं खोलने पर उसने खिड़की में धक्का देकर देखा तो दोनों खिड़की में फंदे से लटक रहे थे। देवर-भाभी की मौत के बाद कई तरह की चर्चाएं तेज है। सूचना मिलने पर एकचारी से भी परिजन पहुंचे हैं। इधर, पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

मरीजों को पटना में लेकर जाती थी राधा

परिजनों ने बताया कि राधा भागलपुर से मरीजों को लेकर पटना में डॉक्टर के पास जाती थी। इससे उसकी कमाई होती थी। शनिवार को गरीब रथ से राधा पटना से भागलपुर आई थी। देवर मुकेश ही भाभी को स्टेशन से मिरजानहाट लेकर आया था। मुकेश आईटीआई कर चुका है। बीए में नामांकन कराने वाला था।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News