कहां से शुरू हुई भोजपुरी स्टार पवन सिंह-खेसारी की दुश्मनी, नेपाली लड़की से है कनेक्शन

by Top Bihar
0 comment

DESK: भोजपुरी इंडस्ट्री में ऐतिहासिक मोमेंट देखने को मिला. दो सुपरस्टार्स पवन सिंह और खेसारी लाल यादव की आपस में गले क्या मिले, हर विवाद खत्म हो गया. जी हां, दोनों स्टार्स के बीच का झगड़ा फाइनली खत्म हो गया. फेमिना के मंच के पर दोनों की दोस्ती कराई गई, जिसे कराने वाला कोई और नहीं बल्कि फेमस एक्टर रवि किशन हैं. दोनों के बीच हुई सुलह से पूरी इंडस्ट्री में खुशी का माहौल है, लेकिन हर किसी के दिमाग में यही सवाल कौंध रहा है कि आखिर इन दोनों का झगड़ा शुरू कहां से हुआ? तो चलिए हम आपको बताते हैं.

नेपाली फैन की बेइज्जती 

दरअसल, मामला शुरू हुआ खेसारी लाल यादव की एक नेपाली फैन की वजह से. नेपाल की एक लड़की ने खेसारी के नाम का टैटू अपने हाथ पर करवा लिया था. ये बात बहुत फैली. उन दिनों पवन सिंह का ही बोलबाला हुआ करता था. ऐसे में जब एक पत्रकार ने उस लड़की से पूछा कि आप पवन सिंह को जानती हैं, तो उसने मना कर दिया. ये बात पवन के फैंस को रास नहीं आई, उन्होंने उस लड़की को काफी भला बुरा कहा था. यहां तक कि पवन के सहयोगियों ने उसे वैश्या तक बुलाया. ये बात खेसारी को बिल्कुल अच्छी नहीं लगी. इसके बाद वो लाइव आए और सभी से अपनी जुबान पर कंट्रोल करने को कहा. साथ ही कहा कि एक लड़की के लिए आप ऐसा कैसे कह सकते हैं. इसके बाद तो जैसे बदकही का दौर ही शुरू हो गया.

बढ़ता गया विवाद

इस किस्से के बाद पवन सिंह ने भी पलटवार किया. एक स्टेज शो के दौरान पवन ने खेसारी का नाम लिए बिना उनपर निशाना साधा और कहा कि, कोई यहां जा रहा है कोई वहां, जिसे जहां जाना है वहां जाए, हम वहां कबका काम करके आ चुके हैं. इस तरह के लोग अभी ये कल्पना भी नहीं कर सकते कि पवन सिंह कहां-कहां गाना गाएंगे. कुछ लोग अकड़ में रहते हैं और 5 हजार में कहीं भी गाना गाते हैं.

पवन इतने पर ही नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा- जो लोग आज इस मुकाम पर पहुंचे हैं, मैं वहां पहले ही काम कर चुका हूं. इसके बाद खेसारी ने भी जवाब देते हुए कहा- किसी भी कलाकार को मंच पर दारू पीकर इस तरह बात नहीं करनी चाहिए. इसके बाद तो विवाद बढ़ता ही गया. खेसारी और पवन कई बार लाइव प्रोग्राम में बिना नाम लिए एक दूसरे को लेकर बोल चुके हैं. दोनों ने अपने गाने के जरिए एक दूसरे पर जातिगत वार किया है. कभी यादव तो कभी बबुआन को लेकर गीत गाए गए. तो वहीं खेसारी ने भी बड़का भैया और राजपूत समाज जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया.

परिवार पर किया गया कमेंट

बात इस हद तक बढ़ गई थी कि खेसारी की बेटी तक को मामले में खींच लिया गया था. इस पर रिएक्ट करते हुए खेसारी ने कहा था कि-भाई अपनी जुबान को कंट्रोल करो आपलोग. उन्होंने मेरी मां-बेटी सबको गाली दे डाली. सच पूछिए तो इनका मुहीम अश्लीलता के खिलाफ नहीं है बल्कि इनका मुहीम अपना चैनल चलाना है, इनका मुहीम अपना फेसबुक चलाना है. जब से ये सोशल साइट्स पैसा देने लगे हैं, ये लोग कैसे भी गाने बना रहे हैं.’ बेटी के खिलाफ अपशब्द बोले जाने पर खेसारी ने बिहार पुलिस से कम्प्लेंट तक की थी. लेकिन कोई सुनवाई या एफआईआर दर्ज ना होने की वजह से वो टूट गए. उन्होंने ट्वीट कर अपना हाल सुशांत सिंह राजपूत जैसा बताया था.

छोटे भाई हैं खेसारी – पवन 

लेकिन इतने सालों के बाद ये पूरा विवाद अब सुलझ चुका है. दोनों के बीच का झगड़ा खत्म हो गया है. फिल्मफेयर के मंच पर पवन और खेसारी ने एक दूसरे को गले लगाकर सबको हैरान कर दिया. फैंस दोनों के मिलन को भोजपुरी इंडस्ट्री की तरक्की मान रहे हैं. वहीं हर कोई रवि किशन की जमकर तारीफ कर रहा है. इस मामले के सुलझ जाने के बाद पवन सिंह ने बिहार तक से बातचीत में कहा- खेसारी हमारे छोटे भाई हैं और हमेशा रहेंगे. कोई भी हो मेरे लिए सब सम्मानित हैं. चाहे वो रितेश हो, कल्लू जी हो, या खेसारी हो. मैं हमेशा दुआ करूंगा कि वो हमेशा खुश रहे, हमेशा छाए रहे. ये मेरे संस्कार में है कि मैं किसी का बुरा नहीं चाहूंगा.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like