Saturday, June 15, 2024
HomeदेशAadhaar-Ration card linking: आधार को राशन कार्ड से लिंक करने का क्या...

Aadhaar-Ration card linking: आधार को राशन कार्ड से लिंक करने का क्या है सबसे आसान तरीका, जानें स्टेप बाय स्टेप प्रोसेस

Aadhaar-Ration card linking: अब आधार और राशन कार्ड को लिंक (Aadhaar-Ration Card Link) कराने की तारीख को बढ़ाकर 30 जून 2023 तक कर द‍िया गया है. इन आसान स्टेप्स से आप भी अपने आधार कार्ड को राशन कार्ड से लिंक करें.

Aadhaar-Ration card linking: भारत सरकार अपने नागरिकों से अपने आधार कार्ड को राशन कार्ड से जोड़ने का मौका दे रही है. ऐसा करने से धोखाधड़ी के मामलों और एक घर के लिए कई राशन कार्ड, अन्य मुद्दों को रोकने में मदद मिलेगी. सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) केंद्रों से चावल, गेहूं और अन्य वस्तुओं जैसे मुफ्त या रियायती राशन प्राप्त करने के लिए भारतीय नागरिकों के लिए राशन कार्ड पहचान का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है. राशन कार्ड को आधार कार्ड से जोड़ने की समय सीमा केंद्र सरकार द्वारा 31 मार्च, 2023 से बढ़ाकर 30 जून, 2023 कर दी गई है.

भ्रष्टाचार पर भी लगेगी लगाम

इसके आधार से लिंक होने के बाद भ्रष्टाचार और अनियमितताओं पर लगाम लगाया जा सकेगा. सरकार की इस पहल से प्रवासियों को बड़ा फायदा होगा. ऐसे लोग जो राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत अस्थायी कार्यस्थल पर राशन से वंचित हैं. इन दोनों के जुड़ते ही ऐसी आबादी कहीं से भी राशन का फायदा ले सकेगी. सरकार ने ऐलान किया है कि इस साल भी यानी 2023 में भी राशन कार्ड धारकों को फ्री राशन का फायदा मिलता रहेगा, लेकिन ऐसा देखा जा रहा है कि कई अपात्र लोग फ्री राशन का फायदा ले रहे हैं इन लोगों पर बड़ी कार्रवाई आधार को आप राशन कार्ड से ऑनलाइन भी लिंक करा सकते हैं.

खुद रद्द करवा दें राशन कार्ड

इसके लिए सरकार की तरफ से लोगों से अपील की जा रही है कि ऐसे लोग खुद अपना राशन कार्ड निरस्त करा लें. राशन कार्ड निरस्त नहीं कराया तो सत्यापन के बाद खाद्य विभाग की टीम इसे रद्द कर देगी. ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई भी की जा सकती है.

जानें क्या है सरकार का नियम?

यदि क‍िसी कार्ड धारक के पास खुद की आय से अर्जित 100 वर्ग मीटर का प्लॉट/ फ्लैट या मकान, चार पहिया गाड़ी / ट्रैक्टर, शस्त्र लाइसेंस, गांव में दो लाख और शहर में तीन लाख सालाना से अधिक पारिवारिक आय है तो ऐसे लोगों को अपना राशन कार्ड तहसील और डीएसओ कार्यालय में सरेंडर करना होगा.

सरकार करेगी कानूनी कार्रवाई

सरकार के नियमानुसार यदि राशन कार्ड धारक कार्ड को सरेंडर नहीं करता है तो ऐसे लोगों का कार्ड जांच के बाद रद्द कर दिया जाएगा. साथ ही उस परिवार के खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी हो सकती है. इतना ही नहीं ऐसे लोगों से जब से वह राशन ले रहा है, तब से राशन की वसूली भी की जाएगी.

ऑनलाइन लिंक करने के लिए क्या करें?

  • सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) की वेबसाइट खोलें (प्रत्येक राज्य का अपना पीडीएस पोर्टल है).
  • अपने आधार को अपने वर्तमान कार्ड से जोड़ने का विकल्प चुनें.
  • अपने राशन कार्ड, आधार कार्ड और पंजीकृत मोबाइल फोन के नंबर उसी क्रम में दर्ज करें.
  • ‘continue/submit’ का विकल्प चुनें.
  • आपके फोन पर एक ओटीपी आएगा, उसे दर्ज करें.
  • जब प्रक्रिया पूरी हो जाएगी तो आपके पास SMS भेजा जाएगा.

ऑफलाइन कैसे करें लिंक?

  • आपको अपने डॉक्यूमेंट्स की मूल और प्रति दोनों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) केंद्र पर लाना होगा जो आपके सबसे नजदीक हो.
  • इन महत्वपूर्ण दस्तावेजों को पीडीएस या राशन की दुकान पर उपलब्ध कराएं.
  • पीडीएस या राशन दुकान कर्मचारी आपके आधार कार्ड की वैधता की पुष्टि करने के लिए फिंगरप्रिंट प्रमाणीकरण का उपयोग करेगा.
  • प्रोसेस समाप्त होते ही आपको एक SMS अलर्ट प्राप्त होगा.
  • आपका आधार और राशन कार्ड सही तरीके से लिंक हो जाने के बाद आपको एक और SMS मिलेगा.
  • आपको अपने डॉक्यूमेंट्स की मूल और प्रति दोनों को सार्वजनिक वितरण प्रणाली (PDS) केंद्र पर लाना होगा जो आपके सबसे नजदीक हो.
  • इन महत्वपूर्ण दस्तावेजों को पीडीएस या राशन की दुकान पर उपलब्ध कराएं.
  • पीडीएस या राशन दुकान कर्मचारी आपके आधार कार्ड की वैधता की पुष्टि करने के लिए फिंगरप्रिंट प्रमाणीकरण का उपयोग करेगा.
  • प्रोसेस समाप्त होते ही आपको एक SMS अलर्ट प्राप्त होगा.
  • आपका आधार और राशन कार्ड सही तरीके से लिंक हो जाने के बाद आपको एक और SMS मिलेगा.
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Latest News