Tuesday, July 16, 2024
HomeदेशAnantnag Encounter: 6 दिन बाद मिला लापता जवान प्रदीप सिंह का शव,...

Anantnag Encounter: 6 दिन बाद मिला लापता जवान प्रदीप सिंह का शव, गंडूल के जंगलों में ऑपरेशन जारी

Anantnag Encounter: अनंतनाग के गंडूल के जंगलों में आतंकवादियों के खिलाफ चल रहा अभियान सातवें दिन भी जारी है. आतंकी की तलाश में सुरक्षा बल जंगल में धीरे-धीरे आगे बढ़ रहे हैं. बता दें कि बीते बुधवार को गंडूल के जंगलों में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी. जिसमें सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस के तीन अधिकारी शहीद हो गए थे. जबकि एक जवान लापता हो गया था. उसके बाद से ही सुरक्षा बल लगातार आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन चला रहा रहे हैं.

इसी बीच मुठभेड़ सोमवार शाम लापता जवान प्रदीप सिंह का शव गंडूल के जंगल में मिला. इसके साथ ही एक अन्य शव भी बरामद किया गया. जिसकी शिनाख्त नहीं हो पाई. इस बीच रविवार को एक आंतकी ठिकाने से भी एक जला हुआ शव बरामद हुआ. जिसकी शिनाख्त के लिए  लश्कर के आतंकी उजैर अहमद परिवार वालों का डीएनए नमूना लेने की तैयारी चल रही है. ऐसा माना जा रहा है कि ये शव आतंकी उजैर अहमद का हो सकता है. जो सुरक्षाबलों की गोलीबारी में मारा गया होगा.

सोमवार सुबह हुई थी गोलीबारी

बता दें कि सोमवार सुबह भी सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच गोलीबारी हुई थी, लेकिन थोड़ी देर बाद ये शांत हो गई. इसके बाद सुरक्षा बलों ने घटनास्थल पर तलाशी अभियान चलाया. इस दौरान दो शव बरामद किए गए. बुधवार को शुरू हुए इस एनकाउंटर में 19 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल मनप्रीत सिंह, मेजर आशीष धोंचक और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपाधीक्षक हुमायूं भट शहीद हो गए. जबकि प्रदीप सिंह लापता हो गए.

अधिकारियों के मुताबिक, सुरक्षा बल घने वन क्षेत्र की निगरानी के लिए ड्रोन और हेलीकॉप्टरों का सहारा ले रहे हैं. जहां गुफा जैसे करई ठिकाने मौजूद हैं. ऐसा माना जा रहा है कि आतंकवादी बुधवार से ही इस इलाके में छिपे हुए हैं. आतंकियों के रिहायशी इलाकों में घुसने की आशंका के चलते पॉश क्रेरी इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है. अधिकारियों का कहना है कि अनंतनाग जिले के पहाड़ी इलाके गंडूल के जंगल में 2 से तीन आतंकी हो सकते हैं जिन्हें सुरक्षा बलों ने घेर रखा है. लेकिन जंगल घना और इलाका पहाड़ी होने की वजह से आतंकियों की तलाश में परेशानी आ रही है.

लश्कर का आतंकी है उजैर खान

ता दें कि उजैर खान लश्कर-ए-ताइबा का ए प्लस कैटेगरी का आतंकी है. वह अनतंनाग जिले के कोकरनाग के नौगाम गांव का रहने वाला है. जो काफी लंबे समय से लापता है, इसके बाद वह पिछले साल लश्कर में शामिल हो गया. उस पर 10 लाख रुपये का इनाम घोषित है. माना जा रहा है कि 13 सितंबर को गंडूल के जंगलों में हुई मुठभेड़ में उजैर खान का ही हाथ है.

घाटी में 81 आतंकी सक्रिया

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, कश्मीर घाटी में अभी 81 सक्रिय आतंकी हैं. इनमें 48 पाकिस्तानी और 33 स्थानीय आतंकी शामिल हैं. वहीं दक्षिण कश्मीर में कुल 56 सक्रिय आतंकी मौजूद हैं. इनमें 28 पाकिस्तानी हैं. वहीं उत्तरी कश्मीर में 16 आतंकियों के सक्रिय होने की खबर है. इनमें से 13 आतंकी विदेशी बताए जा रहे हैं. वहीं मध्य कश्मीर में नौ आतंकियों के सक्रिय होने की बात सामने आई है. जिनमें से सात आतंकी विदेशी बताए जा रहे हैं.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News