Thursday, June 1, 2023
HomeदेशFake Lover Arrested: गर्लफ्रेंड बन जाओ..शादी करूंगा, डेटिंग ऐप पर मिली लड़की...

Fake Lover Arrested: गर्लफ्रेंड बन जाओ..शादी करूंगा, डेटिंग ऐप पर मिली लड़की से तीन लाख ठग लिए..और फिर

Fake Lover Arrested: सोशल मीडिया या डेटिंग ऐप पर लोग कई बार खुद को अमीर दिखाने लगते हैं और लोगों को निशाना बना लेते हैं. इसी कड़ी में एक ‘मैट्रिमोनियल वेबसाइट’ पर खुद को अमीर बताकर महिलाओं से कथित तौर पर पैसे ठगने के आरोप में 26 वर्षीय एक शख्स को दिल्ली में गिरफ्तार किया गया है. पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी है.

आईफोन दिलाने के बहाने

दरअसल, पुलिस ने बताया कि उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के निवासी आरोपी विशाल ने साइट पर खुद को एक अमीर कुंवारा बताया था. वह महिलाओं को आकर्षित करने के लिए महंगी गाड़ियों का इस्तेमाल करता था और आईफोन दिलाने के बहाने कथित तौर पर पैसे भेजने को कहता था. उन्होंने बताया कि विशाल पढ़ा-लिखा है एमएनसी में काम करता था. अपने कारोबार में नुकसान झेलने के बाद, उसने महिलाओं को ठगना शुरू किया था.

जानकारी के मुताबिक यह पूरा मामला तब सामने आया जब एक महिला ने उत्तर पश्चिमी दिल्ली के केशवपुरम थाने में 3.05 लाख रुपये की धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई. पुलिस ने बताया कि गुरुग्राम में एक एमएनसी में काम करने वाली महिला के माता-पिता ने ‘मैट्रिमोनियल वेबसाइट’ पर उसका खाता बनाया था. वर की तलाश में उनकी पहचान इस व्यक्ति से हुई जो खुद को हर साल 50 से 70 लाख कमाने वाला एक एचआर पेशेवर बताता था. इसके बाद महिला की उससे बातचीत होने लगी और दोनों ने एक-दूसरे को अपने नंबर दिए और सोशल मीडिया पर भी एक-दूसरे से जुड़े.

महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि मार्च 2023 में उसने उसे महंगी गाड़ियों की तस्वीरें भेजीं और उससे (उसकी) पसंद पूछी. उसने महिला को प्रभावित करने के लिए गुरुग्राम में अपनी संपत्तियों के रूप में कुछ विला और फार्महाउस दिखाए. उसने गुरुग्राम में उसका खान-पान का अच्छा कारोबार होने की बात भी कही. पुलिस ने बताया कि महिला का विश्वास जीतने के बाद उसने उसे कम दाम में आईफोन खरीदने का प्रस्ताव दिया.

इतना ही नहीं उसने उसके रिश्तेदारों और दोस्तों के लिए भी फोन खरीदने को कहा. महिला ने उसकी बात मानकर उसे यूपीआई (यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस) के जरिए आठ बार में तीन लाख पांच हजार रुपये भेजे. महिला ने आरोप लगाया कि पैसे भेजने के बाद उसने सोशल मीडिया पर उसे ‘ब्लॉक’ कर दिया और बताया कि वह दुर्घटना का शिकार हो गया है और जयपुर के एक अस्पताल में भर्ती है. इसके कुछ दिन बाद उसने महिला के फोन उठाने भी बंद कर दिए, जिससे महिला को उसके साथ धोखाधड़ी होने का एहसास हुआ.

पुलिस उपायुक्त (उत्तर पश्चिम) जितेंद्र कुमार मीणा ने बताया कि शिकायत मिलने के कुछ दिन बाद पुलिस के लिए काम कर रही एक महिला ने आरोपी व्यक्ति से उसी वेबसाइट पर संपर्क किया और फिर उस व्यक्ति ने उसे भी पीड़िता की तरह प्रभावित करने की कोशिश की. पुलिस के लिए काम कर रही महिला ने उसे मिलने बुलाया और इसी दौरान पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. मीणा ने कहा कि पूछताछ के दौरान, उसने धोखाधड़ी में शामिल होने की बात स्वीकार की.

उसने खुलासा किया कि दिल्ली से बीसीए और एमबीए पूरा करने के बाद, उसने 2018 में गुरुग्राम में एक एमएनसी में एचआर पेशेवर के रूप में काम किया. उसने 2021 में नौकरी छोड़ दी और गुरुग्राम में एक रेस्तरां खोला, लेकिन वह चला नहीं.  अधिकारी ने बताया कि विशाल ने ‘मैट्रिमोनियल वेबसाइट’ पर एक खाता बनाया और खुद को एक अमीर कुंवारा बताया. उसने ढोंग करने के लिए 2,500 रुपये प्रतिदिन पर एक एप के जरिए 15 दिन के लिए एक लग्जरी कार भी किराए पर ली. मामले में आगे की जांच जारी है. (इनपुट- भाषा)

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News