डिफ्यूज करने के दौरान ब्लास्ट हुआ बम, दो जवान सहित SI घायल, कांस्टेबल्स की हालत नाजुक

by Top Bihar
0 comment

गया. बिहार के गया में रविवार को एक बड़ा हादसा हुआ. शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र के पंचायती अखाड़ा समीप फल्गु नदी में डिफ्यूज करने के दौरान ही बम फट गया. इस दौरान बीएमपी के बम निरोधक दस्ता के दो जवान बुरी तरह से घायल हो गए, जबकि कोतवाली थाना के एक एसआई भी घायल हो गए. दरअसस 21 दिसंबर 2022 को कोतवाली थाना की पुलिस ने एक कुख्यात अपराधी गजनी को गिरफ्तार किया था.

गिरफ्तार गजनी की निशानदेही पर इसके घर से 6 जिंदा बम बरामद किया गया था जिसे कोर्ट से आदेश मिलने के बाद डिफ्यूज किया जाना था. सभी बम को पंचायती अखाड़ा के पास फल्गु नदी में डिफ्यूज करने की प्रक्रिया की जा रही थी. इसी दौरान बीएमपी की बम निरोधक दस्ता की दो टीमों को बुलाया गया था. बम को डिफ्यूज किया जा रहा था लेकिन अचानक बम विस्फोट कर गया. बम विस्फोट की इस घटना में बीएमपी के बम निरोधक दस्ता के दो जवान बुरी तरह से घायल हो गए. इस दौरान पास में ही रहे कोतवाली थाना के एसआई भी इसके चपेट में आ गए.

बताया जा रहा है कि बम डिफ्यूज करने के दौरान जवानों ने किसी प्रकार का किट नहीं पहना था जिससे बड़ी घटना हो गई. घायलों में बम निरोधक दस्ता के दो जवान अर्जुन कुमार पंडित और शिव कुमार पासवान बुरी तरह से घायल हो गए, जबकि कोतवाली थाना के एसआई विद्यासागर यादव मामूली रूप से घायल हो गये हैं. सभी घायलों का इलाज पहले जयप्रकाश नारायण अस्पताल में किया गया जहां से बेहतर इलाज के लिए अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में भर्ती कराया गया.

Lesbian Love Story: समलैंगिक प्यार में दीवानी बनी रानी! ट्रैक्टर ड्राइवर की पत्नी से हुआ प्रेम, चालक की हत्या के लिए दी सुपारी

घायलों को देखने के लिए एसएसपी आशीष कुमार भारती, बीएमपी कमांडेंट अशोक प्रसाद, बीएमपी के जवान व अन्य पुलिसकर्मी घटनास्थल पर पहुंचे. गंभीर अवस्था में घायल बीएमपी के बम निरोधक दस्ता के जवान को बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर किया जा रहा है. दोनों घायलों को हाथ और चेहरे पर बुरी तरह से घायल है. प्रत्यक्षदर्शी रहे कोतवाली थाना के एसआई विद्यासागर यादव ने बताया कि किरानी घाट के पास बम का मटेरियल फेंकने के दौरान ब्लास्ट हो गया बताया कि कुल 6 बम को डिफ्यूज करना था इस दौरान घटना हो गई.

बीएमपी के कमांडेंट अशोक कुमार ने बताया कि पुलिस के द्वारा बम को निष्क्रिय करना था. किरानी घाट के पास बम के मटेरियल को फेंका जा रहा था तभी किसी टेक्निकल फॉल्ट के कारण ये फट गया और दो जवान घायल हो गए. उन्होंने बताया कि दोनों के आंख और चेहरे और हाथ काफी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गये हैं. फिलहाल मगध मेडिकल के आईसीयू में दोनों का इलाज किया जा रहा है और स्थिति ठीक है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like

Leave a Comment