Sunday, July 21, 2024
HomeदेशSikkim Cloud Burst: सिक्किम में बादल फटने से भारी तबाही, फ्लैश फ्लड...

Sikkim Cloud Burst: सिक्किम में बादल फटने से भारी तबाही, फ्लैश फ्लड में सेना के 23 जवान लापता, तलाश जारी

सिक्किम में बड़ा हादसा हुआ है. नॉर्थ सिक्किम में ल्होनक झील के ऊपर बादल फटने से लाचेन घाटी में तीस्ता नदी में बाढ़ जैसे हालात बन गए. इसके कारण मंगलवार रात 1 बजे के करीब आए फ्लैश फ्लड में सेना के 23 जवान बह गए. उनकी तलाश में रेस्क्यू ऑपरेशन चल रहा है. सेना के कुछ प्रतिष्ठान फ्लैश फ्लड की चपेट में आ गए, जिस कारण यह हादसा हुआ. आर्मी की कई गाड़ियां पानी में डूब गईं. डिफेंस पीआरओ गुवाहाटी ने इस घटना के बारे में एक बयान जारी किया है.

रक्षा जनसंपर्क अधिकारी के ​मुताबिक, ‘उत्तरी सिक्किम में ल्होनक झील के ऊपर अचानक बादल फटने से लाचेन घाटी में तीस्ता नदी में अचानक बाढ़ आ गई. घाटी में कुछ सैन्य प्रतिष्ठान प्रभावित हुए हैं और विवरण की पुष्टि करने के प्रयास जारी हैं. चुंगथांग बांध से पानी छोड़े जाने के कारण नीचे की ओर 15-20 फीट की ऊंचाई तक जल स्तर अचानक बढ़ गया. इससे सिंगताम के पास बारदांग में खड़े सेना के वाहन प्रभावित हो गए हैं. 23 कर्मियों के लापता होने की सूचना है और कुछ वाहनों के कीचड़ में डूबे होने की खबर है. तलाशी अभियान जारी है.

PAN और PRAN कार्ड में क्या है अंतर? कहां होता है इनका इस्तेमाल, कौन कर सकता है इनका उपयोग, जानिए पूरी डिटेल

सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग ने भी सिंगताम में अचानक आई बाढ़ के बाद स्थिति का जायजा लिया. सूत्रों के मुताबिक, चुंगथांग बांध से अचानक पानी छोड़े जाने के कारण नीचे की ओर पानी का स्तर 15-20 फीट तक बढ़ गया. इससे सिंगताम के पास बारदांग में खड़े सेना के वाहन प्रभावित हो गए हैं. जहां 23 जवान लापता हैं, वहीं सेना की करीब 41 गाड़ियां भी कीचड़ में डूब गईं. सेना को बचाव कार्य में चुनौतियों से जूझना पड़ रहा है, क्योंकि क्षेत्र में इंटरनेट कनेक्टिविटी कम है. जो अधिकारी कमांड स्तर पर हैं उन्हें जमीनी स्तर पर लोगों से जुड़ने में कठिनाई हो रही है. अचानक आई बाढ़ में लापता लोगों को बचाने की कोशिशें जारी हैं.

 

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News