Tuesday, July 23, 2024
HomeदेशSmartphone Tips: मुसीबत में फंसने पर काम आएंगी फोन की ये दो...

Smartphone Tips: मुसीबत में फंसने पर काम आएंगी फोन की ये दो बैटरी सेटिंग, जानें कब किस फीचर का करें इस्तेमाल

डेस्क, नई दिल्ली। स्मार्टफोन का इस्तेमाल करने के साथ डिवाइस की चार्जिंग का ध्यान रखा जाना भी जरूरी है। दिन भर में एक बार स्मार्टफोन को चार्ज करने की जरूरत पड़ती ही है।

हालांकि, बहुत से यूजर्स फोन को फुल चार्ज नहीं करते हैं यही वजह है कि यूजर बार-बार फोन को चार्ज करता है। घर और ऑफिस में अडैप्टर की सुविधा मौजूद होती है, लेकिन कई बार घर से बाहर लंबे समय तक रहना पड़ता है।

ऐसे में चार्जिंग की सुविधा मौजूद नहीं होती। फोन की बैटरी भी डाउन होने लगती है। यूजर पूरी कोशिश करता है कि उसका फोन किसी भी हालत में स्विच ऑफ न हो, ठीक इसी समय फोन की कुछ खास सेटिंग यूजर के काम आती हैं।

बैटरी सेविंग के लिए फोन में मिलती है खास सेटिंग

दरअसल, एंड्रॉइड फोन में यूजर के लिए पावर सेविंग मोड की सुविधा मिलती है। बहुत कम यूजर को जानकारी होती है कि फोन में पावर सेविंग के लिए एक नहीं, बल्कि दो सेटिंग की सुविधा मिलती है। जी हां हम यहां Power saving mode और Super power saving mode की ही बात कर रहे हैं। ये दोनों ही सेटिंग यूजर के लिए अलग-अलग जरूरत पर काम आती हैं।

ये भी पढ़ेंः Airtel का धांसू प्लान, एक साथ चलेंगी 4 सिम और मिलेगा 190GB डाटा, अनलिमिटेड कॉलिंग

दरअसल इन दोनों ही सेटिंग का इस्तेमाल फोन में बैटरी को लंबे समय तक बचाए रखने के लिए किया जाता है।

  • Power saving mode के साथ यूजर फोन को नॉर्मल से ज्यादा घंटों तक इस्तेमाल कर सकता है।

  • Super power saving mode के साथ यूजर Power saving mode से भी ज्यादा समय तक फोन को ऑन रख सकता है।

Super power saving mode के साथ यूजर 50 प्रतिशत से कम बैटरी पर भी फोन को 20-21 घंटों तक चला सकता है। हालांकि, इस सेटिंग के साथ फोन में जरूरत भर की ऐप्स रन होती हैं।

Power saving mode को फोन की बैटरी बचाने के लिए इनेबल ही रख सकते हैं। इस मोड के ऑन होने पर फोन पहले की तरह ही इस्तेमाल कर सकते हैं। मोड इनेबल होने पर कम बैटरी की स्तिथि में डिवाइस स्क्रीन ब्राइटनेस जैसी सेटिंग को मैनेज करता है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News