Home » National » Ram Navami 2023 Date: राम नवमी 2023 में कब आएगी, भगवान राम के जन्म दिवस की डेट, तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

Ram Navami 2023 Date: राम नवमी 2023 में कब आएगी, भगवान राम के जन्म दिवस की डेट, तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

by Top Bihar
0 comment
Ram Navami 2023 Date and Time (राम नवमी 2023 में कब है): हिंदू धर्म में भगवान राम को मर्यादा पुरुषोत्तम की संज्ञा दी गई है। मान्यताओं के अनुसार चैत्र मास की नवमी को भगवान राम का जन्म हुआ था। इसी दिन को राम नवमी (Ram Navami in Hindi) के उपलक्ष में मनाया जाता है। चैत्र मास के शुल्क पक्ष की प्रतिपदा से नवरात्रि शुरू होती हैं और देवी के आठ रूपों की पूजा की जाती है। इसी के साथ नौवें दिन राम नवमी का उत्सव मनाया जाता है। राम नवमी (Ram Navami Ka Mahatva) को भगवान राम के जन्मदिन के उपलक्ष्य में मनाते है। राम नवमी के दिन भगवान राम की विधि विधान से पूजा की जाती है। मंदिरों को सजाया जाता है, ढोल नगाड़े बजते हैं और भक्त भगवान राम के जन्म की खुशी मनाते हैं।
राम नवमी का दिन बेहद शुभ माना जाता है। इस दिन तमाम नए काम भी प्रारंभ किए जाते हैं। इस दिन भगवान राम में आस्था रखने वाले व्रत रखते हैं और विधिवत श्री राम की पूजा करके व्रत का पारण करते हैा। यहां जानें राम नवमी 2023 में कब आएगी (When is Ram Navami in 2023)। देखें राम नवमी 2023 की डेट, तिथि, शुभ मुहूर्त और पूजा विधि।
चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी को राम नवमी के रूप में मनाया जाता है। धार्मिक मान्यताओं अनुसार इसी दिन भगवान राम का जन्म हुआ था । इस साल राम नवमी 30 मार्च को मनाई जाएगी। साथ ही इस साल राम नवमी पर कई शुभ संयोग भी बन रहे हैं।

Ram Navami 2023 Date, Tithi, Time In India

Chaitra Month 2023 Navami Tithi begins चैत्र मास 2023 की नवमी तिथि शुरू 29 मार्च 2023, रात 09:07 मिनट से प्रारंभ
Chaitra Month 2023 Navami Tithi Ends चैत्र मास 2023 की नवमी तिथि समाप्त 30 मार्च 2023, रात 11:30 पर
Ram Navami 2023 Puja Muhurat राम नवमी 2023 अभिजीत मुहूर्त 30 मार्च 2023, सुबह 11:17 से दोपहर 01:46 बजे तक
Ram Navami 2023 Puja Time राम नवमी 2023 पूजा अवधि 2 घंटे 28 मिनट रहेगी
Ram Navami Puja Vidhi in Hindi
  • प्रातः काल स्नान कर साफ वस्त्र धारण करें ।
  • भगवान राम के बाल रूप को झूले में विराजमान करें ।
  • राम नवमी पर दोपहर के समय पूजा की जाती है ।
  • एक कलश पर आम के पत्ते और नारियल रखें।
  • भगवान राम को धूप , दीप , फल, फूल, वस्त्र आभूषण भेंट करें।
  • भगवान राम को मिष्ठान , खीर, हलवा ,गुड़ शक्कर का भोग लगाएं।
  • अंत में विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें और विष्णु भगवान की आरती करें।
Raam Navmi Significane (राम नवमी का महत्व)
सनातन धर्म में भगवान राम को पूजा जाता है। चैत्र नवरात्रि के समाप्त होने पर नौवें दिन राम नवमी मनाई जाती है । हिंदु धर्म ग्रंथ के अनुसार भगवान राम का जन्म चैत्र मास की नवमी को हुआ था। इस दिन भगवान राम की पूजा अर्चना की जाती है। मान्यताओं के अनुसार अगर व्यक्ति भक्तिभाव से भगवान राम की पूजा करता है उसे धन वैभव व संपत्ति मिलती है और जीवन में अच्छाई का निवास होता है।
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like

Leave a Comment