बारात लेकर क्यों नहीं पहुंचा दूल्हा? हाथों में मेहंदी लगाकर रातभर इंतजार करती रही दुल्हन, जानिए पूरा मामला…

by Top Bihar
0 comment

DESK: यूपी के आगरा जिले के कागारौल थाना क्षेत्र के नगला हीरामन में रविवार को किसान की बेटी की बारात आनी थी। लेकिन दहेज की मांग ने पिता के अरमानों पर पानी फेर दिया। आरोप है कि वर पक्ष बारात लेकर ही नहीं पहुंचा। कन्या पक्ष उसका इंतजार करता रह गया। दुल्हन भी हाथों में मेहंदी लगाकर रातभर अपने दूल्हे का इंतजार करती रही। लेकिन न तो बारात आई और न ही दूल्हा। इसके बाद लड़की के पिता ने पुलिस की चौखट खटखटाई। प्रार्थना पत्र दिया। पुलिस ने दूल्हा, उसके माता-पिता और दो भाइयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

नगला हीरामन निवासी रामफल सिंह ने बेटी का रिश्ता नंदगांव (बरसाना) में तय किया था। 24 फरवरी को लग्न सगाई की रस्म हुई। पिता ने लड़के वालों को तय सामान के साथ नगद रकम भी दी। 26 फरवरी को बारात आनी थी। रामफल सिंह का आरोप है कि उनसे और दहेज की मांग की जाने लगी। दूल्हा पक्ष ने 10 लाख रुपये और मांगे। यह रकम अदा करने में लड़की के पिता ने असमर्थता जतायी। रविवार को दूल्हा बारात लेकर नहीं पहुंचा। कन्या पक्ष देर रात तक इंतजार करता रहा। सोमवार को रामफल सिंह ने थाने पर तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने दूल्हा कपिल, उसके पिता राजेश, मां व दो भाइयों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न का मुकदमा दर्ज किया है। थाना प्रभारी निरीक्षक कागारौल सुभाष चन्द्र पांडेय ने बताया है कि कन्या पक्ष की तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

कार और पांच लाख देकर किया था टीका

रामफल ने बताया कि लग्न सगाई के मौके पर हैसियत के हिसाब से एक स्विफ्ट कार, पांच लाख नगद, एक लाख 40हजार का फर्नीचर, तीन लाख 45 हजार की जवैलरी दी थी। इसके बावजूद दूल्हा तय रकम को अपनी हैसियत के हिसाब से कम बताते हुये 10 लाख रुपये की मांग करने लगा। रकम वापिस करने की मांग पर गोली से मारने की धमकी दी है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like

Leave a Comment