Tuesday, June 25, 2024
HomeअपराधBihar Serial Killer: मुजफ्फरपुर में सीरियल किलर अरेस्ट, 9 दिन में किए...

Bihar Serial Killer: मुजफ्फरपुर में सीरियल किलर अरेस्ट, 9 दिन में किए 3 मर्डर; नशे की लत के लिए अपने कपड़े तक बेच दिए; पैसे कम पड़े तो करने लगा हत्या

पटना: बिहार केमुजफ्फरपुर में 9 दिनों में तीन लोगों की हत्या करने वाले सीरियल किलर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तारी के बाद उसने बताया कि अपने नशे के शौक को पूरा करने के लिए तीन लोगों की हत्या की. इस सीरियल किलर ने 9 दिनों में चार लोगों पर लोहे के रॉड से हमला किया था. जिसमें तीन की मौत हो गई. जबकि एक व्यक्ति गभीर रूप से घायल हो गया. इलाके में लगातार हो रही हत्या के बाद लोग खौफ में थे. लोगों ने शाम के बाद घर से निकलना बंद कर दिया था. अब जब सीरियल किलर पकड़ा गया है तो लोगों ने राहत की सांस ली है. लेकिन इससे पहले तीन लोगों की वह हत्या कर चुका है जबकि चौथा गंभीर रूप से घायल है.

सीरियल किलर स्मैक पीने के लिए रोज हत्या करता था. उसे स्मैक के लिए हर रोज एक हजार रुपए की जरूरत होती थी. इसके लिए वह लोगों के सिर पर लोहे की रॉड से हमला करता था और फिर उसकी हत्या करने के बाद वह उसके पैसे और मोबाइल लूट लेता था.

परेशान होकर पत्नी चली गईं

नशे की लत पूरी करने के लिए लोगों की जान लेने वाले हत्यारे की पहचान जिले के अहियापुर थाना क्षेत्र के कोलहुआ पैगंबरपुर गांव के शिवचंद्र पासवान उर्फ भोला के रूप में हुई है. गिरफ्तारी के बाद भोला ने पुलिस को बताया कि उसे स्मैक पीने की आदत है. इसके लिए उसे रोज एक हजार रुपए की जरूरत होती थी. वह पहले लकड़ी बेचने का काम करता था. इस दौरान ही उसे नशे की ये आदत लगी. इसके बाद उसका काम धंधा छूट गया. वह पैसे के लिए अपने मां को परेशान करने लगा तो मां उसे छोड़कर चली गई. फिर उसकी पत्नी ने भी उसकी नशे की आदत और रोज मार- पीट से परेशान होकर उसका साथ छोड़ दिया.

तब नशे की लत को पूरा करने के लिए उसने पहले अपने कपड़े किलो के भाव में बेच दिए, फिर अपना मोबाइल और घर के सारे कीमती सामान भी बेच दिए. इसके बाद जब पैसे पैसे खत्म हो गए तो वह लोगों की हत्या करने लगा. वह हत्या कर पैसे और मोबाइल लूट लेता था और उसे बेचकर नशा करता था. हत्या का ये सिलसिला 30 अप्रैल को शुरु हुआ. उसने सबसे पहले सुरेश पासवान की हत्या कर उसे लूटा. फिर 1 मई को उसने मुस्तफा अंसारी और 8 मई को शंकर की जान ले ली. उसने मो. दुलारे पर भी हमला किया था लेकिन वह बच गया. पुलिस उस तक लूटे हुए मोबाइल के लोकेशन के आधार पर पहुंची.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Latest News