अपने बच्चों को विदेश में पढ़ाएगी अंजू, लौटते ही बांधे पाकिस्तान के तारीफों के पुल

By Top Bihar

Published on:

Follow Us
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

DESK: लगभग 4 महीने पाकिस्तान में रहने के बाद अंजू वापस भारत लौट आई है. दिल्ली आते ही वो अपने दोस्त के साथ झज्जर पहुंची, पाकिस्तान से लौटते ही अंजू ने वहां बिताए 4 महीनों के बारे में खुलकर बताया. अंजू ने कहा कि वो वहां कानूनी प्रक्रिया के तहत ही गई थी, और उसी तरह से बिना किसी दबाव और जोर जबरदस्ती के खुद ही अपनी मर्जी से भारत वापस आई है. अंजू ने कहा कि बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए जल्द ही कोई बड़ा फैसला लेगी.

अंजू के 2 बच्चे हैं, जिनमें एक बेटी और एक बेटा है. दोनों ही भिवाड़ी के स्कूल में पढ़ रहे हैं. अंजू ने कहा कि वो एक मां है, और उसे पता है कि बच्चों की परवरिश कैसी है, उन्हें कहां बेहतर शिक्षा मिलेगी. वो आगे वही करेगी, जो बच्चों के भविष्य के लिए ठीक रहेगा. इसके लिए वो अपने पहले पति अरविंद से मिलेगी, बैठकर मुलाकात करेगी. तलाक और बच्चों के विषय पर बात करके वो फैसला लेगी, जो बच्चों के लिए बेहतर रहेगा. अंजू ने कहा कि पहले भी वो खुद ही नौकरी करके बच्चों को संभाल रही थी.

बड़ी बेटी को विदेश में पढ़ाने का सपना पूरा करेंगी अंजू

अंजू ने बताया कि उसकी बेटी को न तो पाकिस्तान पसंद है और न ही वो भारत में रहना चाहती है. उसकी इच्छा है कि अमरीका या यूरोप में पढ़ाई करके सेटल होने की. अगर उसकी इकोनॉमी ठीक रही तो वो अपनी बेटी का ये सपना पूरा करेगी. हालात के हिसाब से आगे का फैसला लेगी. इसके लिए वह पहले अपने बच्चों के साथ बैठकर बात करेगी. बाकि उसने कहा कि अगर अरविंद के साथ बात न बनी तो कानून का सहारा लेगी और फिर कानून फैसला करेगा कि बच्चे कहां रहेंगे. हालांकि टीवी 9 भारतवर्ष से बातचीत के दौरान अरविंद ने कहा था कि वो न अंजू से मिलेगा, न तलाक देगा और न ही अपने बच्चों को ले जाने देगा.

बिना किसी दबाव के अपनी मर्जी से आई हूं भारत

अंजू ने कहा कि वो पाकिस्तान गई भी अपनी मर्जी से, और वहां से अपनी मर्जी से ही वापस आई है. लीगली तौर पर सारी सुरक्षा एंजेसिंयों से बात करके और क्लीयर करने के बाद ही गई थी और लीगली तौर पर ही वापस आई हूं. मेरे ऊपर कोई जोर जबरदस्ती या दबाव नहीं था

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now