सासाराम में रामनवमी पर बवाल के बीच अमित शाह का कार्यक्रम स्थगित, जिले में उपद्रव के बाद हालात तनावपूर्ण

by Top Bihar
0 comment

पटना। रामनवमी के मौके पर रोहतास जिले के सासाराम में हिंसा (Violence in Sasaram) के बाद स्थिति तवानपूर्ण है। मामले की गंभीरता को देखते हुए धारा 144 लागू है। इस बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) का सासाराम में दो अप्रैल को निर्धारित कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया है।

भाजपा के प्रदेश अध्‍यक्ष सम्राट चौधरी (Samrat Choudhary) ने इसकी जानकारी दी। सम्राट चौधरी ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) सासाराम आने वाले थे, लेकिन बिहार सरकार ने धारा 144 लागू (Section 144 in Sasaram) की है। हमें इस कार्यक्रम को रद्द करना होगा। एसे हालात के बीच हम इस तरह का आयोजन कैसे कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि अमित शाह अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत आज शाम 1 अप्रैल को पटना आएंगे। वे यहां वरीय नेताओं के साथ आगामी लोकसभा चुनाव की रणनीति पर विचार करेंगे। फिर, रविवार को नवादा के हिसुआ में जनसभा को संबोधित करेंगे।

रेलवे स्टेडियम में की गई थी तैयारी

बता दें कि दो अप्रैल को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सासाराम आने वाले थे। शुक्रवार को सांसद छेदी पासवान, डीएम धर्मेंद्र कुमार, एसपी विनीत कुमार, आरपीएफ कमांडेंट समेत अन्य अधिकारियों ने स्थानीय रेलवे स्टेडियम में तैयारियों का जायजा लिया था।

हालांकि, गुरुवार को रामनवमी के बीच हालात तनावपूर्ण हो गए। सासाराम नगर थाना के शहजलालपीर, सपुल्लाहगंज, नवरतन बाजार, गोला रोड समेत कुछ अन्य मोहल्लों में रामनवमी जुलूस के बाद शुक्रवार को दो पक्षों के बीच झड़प हुई। जमकर पथराव भी किया गया, जिससे दो पुलिसकर्मी के अलावा कुछ अन्य लोग घायल हो गए।

शुक्रवार से इलाके में निषेधाज्ञा लागू

उपद्रवी तत्वों ने एक दुकान में आग लगा दी। घटना की सूचना मिलते ही डीएम धर्मेंद्र कुमार, एसपी विनीत कुमार, डीडीसी शेखर आनंद, एडीएम चंद्रशेखर प्रसाद सिंह, एसडीएम मनोज कुमार, एसडीपीओ संतोष कुमार राय समेत अन्य अधिकारी दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंच लोगों को समझााने तथा माहौल को शांत करने का प्रयास किया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल तैनात की गई है। शहर में शांति बहाली के लिए अगले आदेश तक निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है।

प्रशासन ने आमजनों से की अपील

प्रशासनिक अधिकारियों ने बताया कि फिहाल स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। अफवाह फैलाने वालों पर पैनी नजर रखी जा रही है। प्रभावित इलाकों में पुलिस गश्ती बढ़ा दी गई है। आमलोगों से अफवाह पर ध्यान नहीं देने व गलत सूचनाओं को विभिन्न इंटरनेट मीडिया से प्रसारित नहीं करने की अपील की गई है। प्रशासन व पुलिस के अधिकारी अभी भी घटनास्थल पर कैंप कर रहे हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like

Leave a Comment