भली है बुरी है चाहे जैसी भी है, मेरी पत्नी.. : प्रेमी के लिए दो बच्चों की मां ने पति का घर छोड़ा,पर प्रेमी उसे बीच रास्ते छोड़ा

By Top Bihar

Published on:

Follow Us
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

DESK-: भली है बुरी है ..चाहे जैसी भी है..मेरी पत्नी मेरे लिए अहम है..और वो मरते दम तक अपनी पत्नी की खुशी के लिए प्रयास करता रहेगा…ये लब्ज हैं मुंगेर के रहनेवाले अभिषेक कुमार के..उसकी पत्नी काजल उससे तलाक लेना चाहती है..ताकि वह अपने प्रेमी राजू के साथ घर बसा सके ….वह अपने प्रेमी के साथ पति का घर छोड़कर फरार भी हो चुकी है..इस बीच प्रेमी से उसे धोखा मिला तो उसने खुदकुशी करने के लिए जहर खा ली ..जब इसकी जानकारी पति अभिषेक को मिली तो वह भागा-भागा उसके पास पहुंचा..अस्पताल में वह अभी अपनी पत्नी की सेवा कर रहा है.

मसाला फिल्म की तरह है कहानी

फिल्मी स्क्रिप्ट की तरह लग रही इस कहानी की शुरूआत 2017 में हुई थी. मुंगेर के वासुदेव क्षेत्र के लाल दरवाजा मंगल बाजार के रहने वाला अभिषेक और काजल की शादी 2017 में हुई थी। अभिषेक सूरत में काम करता है। उन दोनो के दो बच्चे भी हैं.पति अभिषेक ने बताया कि उसकी पत्नी काजल का प्रेम प्रसंग राजू नामक युवक के साथ चल रहा है.इसकी जानकारी मिलने पर वह 2 अगस्त को सूरत से मुंगेर वापस आया तो उसकी पत्नी काजल घर पर नहीं थी।

देखते रह गए BDO साहब और आशिक संग फरार हो गई बीवी, ज्वेलरी भी ले गई, पत्नी बोलीं-  बहनोई के साथ जाऊंगी

वह अपने प्रेमी राजू के साथ भाग फरार हो गई थी.इस बीच राजू के परिजनों ने कहा कि काजल को अपने पति से तलाक लेने के बाद अपने साथ रखना..इसके बाद राजू काजल को स्टेशन पर छोड़कर चला गया.उसके बाद काजल ने अपने पति अभिषेक को फोन करके बरौनी स्टेशन बुलाया और घर आकर उसने अपने पति से तलाक की मांग की…पति अभिषेक ने कहा कि तुझे जहां जाना है चले जाओ..पर मैं तलाक नहीं दूंगा..इसके बाद काजल अपने पिता के घर चली गई.

वहीं उसने प्रेमी राजू को फोन करके बुलाया पर राजू उसे लेने नहीं आया जिसके बाद काजल को गहरा सदमा लगा और उसने जहर खा खुदकुशी की कोशिश की..पत्नी के जहर खाने की सूचना के बाद पति अभिषेक भागा-भागा अस्पताल पहुंचा..और अपने पत्नी की सेवा कर रहा है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now