बिहार

बिहार के रोहतास व छपरा में मौत का तांडव, ठनके की चपेट में आकर आधा दर्जन से अधिक लोगों की गयी जान

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Bihar News: बिहार में मौसम का मिजाज बदला हुआ है. तेज बारिश के साथ ही ठनका भी कई जगहों पर गिरा. मंगलवार को ठनके की चपेट में आकर आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो गयी. रोहतास जिले में मंगलवार की दोपहर बारिश के बीच ठनका गिरने से एक वृद्ध महिला और दो किशोरों सहित चार लोगों की मौत हो गयी. वहीं, तीन बकरियों की भी ठनका के चपेट आने से जान चली गयी. आपदा प्रबंधन विभाग, पटना के मुताबिक, राज्य में कई जिलों में मंगलवार को हल्की व तेज बारिश हुई है. इस दौरान ठनका गिरने से रोहतास जिले में चार लोगों के मरने की खबर है. वहीं छपरा में भी तीन लोगों की मौत की खबर सामने आयी है.

तीन बकरियों की भी मौत

जानकारी के अनुसार, सासाराम प्रखंड के दरिगांव थाना क्षेत्र के मलाव गांव में मंगलवार की दोपहर ठनका गिरने से दो किशोरों और तीन बकरियों की मौत हो गयी. मृतक गांव निवासी बबुनी बिंद का 11 वर्षीय बेटा चंदन कुमार व अशोक बिंद का 12 वर्षीय बेटा सूरज कुमार बताये जा रहे हैं. परिजनों से मिली जानकारी के अनुसार, चंदन और सूरज गांव के समीप बधार में बकरियां चरा रहे थे. इस दौरान गर्जन के साथ बारिश शुरू हो गयी. हल्की बारिश देख दोनों किशोर बकरी चराने में लगे हुए थे, तभी अचानक ठनका गिर गया. ठनके की चपेट में दोनों किशोर और बकरियां आ गयीं और उनकी मौके पर ही मौत हो गयी. इस संबंध में दरिगांव थानाध्यक्ष संतोष कुमार सिंह ने बताया कि दोनों शवों को पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया गया है. वहीं, सदर अंचल पदाधिकारी निशांत कुमार ने कहा कि पीड़ित परिवार को तत्काल मुआवजा देने की प्रक्रिया की जा रही है.

रोहतास में मौत का तांंडव

बताया जा रहा है कि चेनारी थाना क्षेत्र के खदौली गांव में दोपहर करीब तीन बजे ठनके की चपेट में आने से एक वृद्ध महिला की मौत हो गयी. मृतका थाना क्षेत्र के कटरा बभन गांव निवासी स्व. गुप्तेश्वर पासवान की 50 वर्षीय पत्नी कबूतरी देवी बतायी जा रही है. मृतका के परिजन कामता पासवान ने बताया कि कबूतरी खदौली गांव के काली मंदिर के समीप भैंस चरा रही थी, तभी उसके ऊपर ठनका गिर गया. इससे उसकी मौत हो गयी. घटना की सूचना पर पहुंचे परिजन उसे अस्पताल गये, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया. थानाध्यक्ष शंभू कुमार ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए सासाराम सदर अस्पताल भेज दिया गया है. वहीं, अंचल पदाधिकारी निशांत कुमार ने बताया कि आपदा प्रबंधन के तहत मृतका के परिजनों को चार लाख रुपये का मुआवजा दिया जायेगा. वहीं, जिले में वज्रपात से एक अन्य की मौत की भी सूचना है.

छपरा में वार्ड सदस्य की मौत

सारण के भेल्दी थाना क्षेत्र के सरायबक्स चंवर में धान के खेत में खाद डाल रहे रज्जूपुर गांव निवासी वार्ड सदस्य अशोक राय की ठनका की चपेट में आ जाने से मौत हो गयी. उनके साथ खेत में ही काम कर रहे तीन अन्य लोग घायल हो गये. जिनकी स्थिति नाजुक बनी हुई थी. घायलों में मृतक अशोक राय के पुत्र प्रिंस कुमार,राजदेव राय के पुत्र अंकित कुमार व पारस राय के पुत्र रोहित कुमार शामिल हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, छपरा की इस घटना में तीन लोगों की मौत हो चुकी है.

खेत में ठनके की चपेट में चार लोग आए

जानकारी के अनुसार मंगलवार की देर शाम हल्की बूंदाबांदी के बीच अशोक राय अपने पुत्र व दोनों भतीजा के साथ राजा चौक के समीप चिमनी के पास अपने धान के खेत में खाद डालने के लिए आए थे. बिजली की चमक इतनी तेज थी कि एक किलोमीटर तक जलने जैसा लोगों को महसूस हुआ. चिमनी पर काम कर रहे लोगों ने देखा कि खेत में कुछ लोग गिरकर छटपटा रहे हैं. जिसके बाद शोर मचाने पर लोगों की भीड़ जुट गयी.

ठनके ने मचायी तबाही

स्थानीय लोग इलाज के लिए उन्हें गरखा सीएचसी ले गये. जहां से डॉक्टर ने गंभीर हालत को देखते हुए सदर अस्पताल छपरा रेफर कर दिया. जहां डॉक्टरों ने वार्ड सदस्य अशोक राय को मृत घोषित कर दिया. जबकि तीन अन्य घायल हुए. उनके परिजन नाजुक स्थिति को देखते हुए किसी प्राइवेट अस्पताल में इलाज के लिए ले गये. घटना की सूचना होने पर थानाध्यक्ष संतोष कुमार घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जांच किए. वार्ड सदस्य की मौत की सूचना मिलते ही उनके परिजनों में कोहराम मच गया. अशोक राय की पत्नी की मौत पहले ही हो चुकी है. जबकि उनके उनका पुत्र प्रिंस ठनका गिरने से ही नाजुक स्थिति में इलाजरत है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now