Bihar: आरा में जदयू नेता की संदेहास्पद स्थिति में मौत, मिस फायर से मौत की आशंका; कमरे में मिला पिस्टल

by Top Bihar
0 comment

आरा। भोजपुर जिले के सिकरहटा थाना क्षेत्र के फतेहपुर बाजार में मंगलवार की रात गोली लगने से तरारी प्रखंड के युवा जदयू के प्रखंड अध्यक्ष की मौत हो गई। इलाज के लिए आरा लाने के दौरान रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया। मृतक 22 वर्षीय दीपक कुमार उर्फ भिखारी सिंह मूलरूप से सिकरहटा थाना क्षेत्र के कुरकुरी गांव निवासी कृष्णा सिंह के पुत्र थे। वे वर्तमान में स्थानीय थाना क्षेत्र के फतेहपुर बाजार में घर बनाकर रह रहे थे।

इधर, वारदात के बाद पीरो डीएसपी राहुल सिंह के नेतृत्व में पुलिस मृतक के घर पहुंची और छानबीन की। छानबीन के दौरान मकान के एक कमरे से एक पिस्टल और मैगजीन मिला है। कमरे के फर्श पर गोली के निशान भी पाए गए हैं। कमरे को सील कर दिया गया है।

शुरुआती जांच में पता चला है कि मंगलवार की संध्या में फतेहपुर बाजार के एक दुकानदार से कोल्ड ड्रिंक के पैसे को लेकर उनका वाद-विवाद हुआ था। फिर रात में संदेहास्पद स्थिति में उनकी मौत की खबर सामने आई है। मृतक के जांघ में गोली लगी है। शुरुआती जांच में माना जा रहा कि पिस्टल लेकर जाने के दौरान छीना-झपटी में गोली चल गई होगी, जिससे उनकी मौत हो गई। हालांकि, अभी जांच चल रही है।

इधर, मृतक के भाई अभिषेक कुमार ने बताया कि वह मंगलवार को पीरो गए थे। उनके भाई घर के बाहर दरवाजे पर कुर्सी लगाकर बैठा करते थे। रात में जब वह पीरो से वापस लौटे तो उसने देखा कि उनके भाई जमीन पर खून से लथपथ गिरे पड़े है। आनन-फानन में स्वजन उन्हें इलाज के लिए पीरो स्थित निजी अस्पताल लाए। वहां से आरा शहर स्थित निजी अस्पताल लाया जा रहा था, तभी रास्ते में ही उन्होंने दम तोड़ दिया।

बावजूद इसके स्वजन उसे आरा शहर के निजी अस्पताल लाए, जहां चिकित्सक ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई अभिषेक कुमार ने कहा कि उन्हें गोली कैसे लगी यह पता नहीं चल पाया है। किसी प्रकार की दुश्मनी एवं विवाद की बात से भी परिवार ने इंकार किया है।

आधी रात को पहुंचे डीएसपी ने ली कमरे की तलाशी

इधर, घटना की सूचना मिलते ही पीरो डीएसपी राहुल सिंह मंगलवार देर रात 12 बजे घटनास्थल पर पहुंचे और मामले की छानबीन की। डीएसपी राहुल सिंह ने बताया कि मृतक के कमरे की तलाशी ली गई है। कमरे में पूरा खून फैला हुआ था। फर्श पर गोली के निशान पाए गए हैं और पिस्तौल भी बरामद हुआ है। प्रथम दृष्टया ऐसा लग रहा है कि धोखे से फायर होने के कारण गोली लगने से मौत हुई है। स्वजन आवेदन देते हैं तो प्राथमिकी दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

You may also like

Leave a Comment