आकांक्षा दुबे आत्महत्या केस: 7 महीने बाद जेल से बाहर आया आरोपी भोजपुरी सिंगर समर सिंह

By Top Bihar

Published on:

Follow Us
WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

भोजपुरी एक्ट्रेस आकांक्षा दुबे की मौत मामले में आरोपी सिंगर समर सिंह को मिली जमानत के बाद आज यानी गुरुवार को उसे जिला जेल से रिहा कर दिया गया है. जमानतदारों के वैरिफिकेशन के बाद सुबह वाराणसी के जिला जेल से उसे रिहा किया गया. इसके बाद समर दोस्तों के साथ आजमगढ़ के लिए रवाना हो गया. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने एक सप्ताह पहले ही समर सिंह को बॉन्ड पर रिहा करने का आदेश दिया था, जिसके बाद परिजनों ने वाराणसी के जिला जेल में परवाना दाखिल किया था.

दीपावली की छुट्टी होने की वजह से समर सिंह के जमानत के कागज तैयार नहीं हो सके थे. उसके दस्तावेज और जमानतदारों का वैरिफिकेशन नहीं हो सका था. 15 नवंबर को समर सिंह के सभी दस्तावेजों की जांच पूरी हो गई. गुरुवार सुबह जेल अधीक्षक की संस्तुति के बाद समर सिंह को रिहा कर दिया गया. भोजपुरी सिंगर समर सिंह 7 महीने से वाराणसी जेल में बंद था. दो महीने पहले वाराणसी कोर्ट ने उसकी जमानत याचिका खारिज कर दी थी, जिसके बाद समर ने हाईकोर्ट में गुहार लगाई थी.

जेल से बाहर आने पर मुंह छिपाते हुए समर सिंह

26 मार्च 2023 को वाराणसी के एक होटल में भोजपुरी एक्ट्रेस और मॉडल आकांक्षा दुबे का शव फंदे से लटकता मिला था. आकांक्षा ने होटल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर जांच शुरू की. इस दौरान एक्ट्रेस के परिवार की तरफ से भोजपुरी सिंगर समर सिंह पर कई आरोप लगाए थे.

आकांक्षा की मां ने कहा था कि समर सिंह ने अपने भाई के साथ मिलकर उनकी बेटी की हत्या की है. उन्होंने समर सिंह के भाई संजय सिंह पर धमकी देने का भी आरोप लगाया था. उन्होंने ये भी कहा था कि समर सिंह उनकी बेटी को कहता था कि वो सिर्फ उसके साथ ही काम करे, न कि किसी दूसरे एक्टर के साथ. जब भी दूसरे एक्टर के साथ काम करने की बात होती वो गुस्सा हो जाता था और उसे टॉर्चर करता था.

जांच के दौरान पुलिस ने पाया था कि दोनों रिलेशनशिप में थे. अभिनेत्री आकांक्षा दुबे भदोही के चौरी थाना क्षेत्र के परसीपुर की रहने वाली थी. वो अपनी बोल्ड अदाओं के लिए मशहूर थी.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now